welcome to Aman Prakashan kanpur,u.p.(india)-Home
× About Us New Releases Best Sellers FAQ & Help Catalogue Gallery Contact Us

Catalogue »  आलोचनात्मक पुस्तकें

  S. No.   Book Name Author Price
1   गोविंद मिश्र के उपन्यास और भारतीय परिवार     अमृत कुमार   375
2   कविता के वरिष्ठ नागरिक      डॉ. ओम निश्चल   495
3   सत्ता से संवाद      मुकेश भारद्वाज   400
4   व्यंग्य: एक नई दृष्टि      सुरेश कांत   450
5   आत्मकथा का आलोक     सं. अर्पण कुमार   395
6   भारतीय गल्प      प्रभाकर श्रोत्रिय   350
7   उत्तर आधुनिकता: समय और साहित्य     सं.डॉ. प्रमोद कोवप्रत   395
8   समकालीन साहित्य: आलोचनात्मक विवेचन      रूपसिंह चंदेल   550
9   प्रवासी साहित्य एवं हिन्दी भाषा का बदलता स्वरूप     सं. डॉ. कोयल विश्वास   295
10   युग निर्माता गांधी: साहित्य के आईने में     सं. डॉ. आरसु   375
11   उषा हिंडोलाःउषाकिरण खान का रचनासंसार     सं. कुमार वरुण   495
12   कहानीकार फणीश्वरनाथ रेणु      भारत यायावर   595
13   साहित्यिक अवधारणायें: सामयिक संदर्भ     डॉ. एस. कृष्ण बाबु   600
14   समकालीन हिन्दी कविता और भूमंडलीकरण     सं. नीरज   350
15   साहित्य, संस्कृति और भाषा     ऋषभदेव शर्मा   495
16   सदी की चौखट पर कविता (आलोचना)     अरुण शीतांश   395
17   समकालीन हिन्दी उपन्यासों में आदिवासी जीवन      डॉ. आर. तारा सिंह   525
18   बचपन और बाल साहित्य के सरोकार     डॉ. ओमप्रकाश कश्यप   795
19   प्रवासी साहित्य का सांस्कृतिक रेखांकन     डॉ. इंद्र के.वी.   395
20   थर्ड जेंडर: अस्मिता और संघर्ष     सं.डॉ. विजेन्द्र प्रताप सिंह   495
21   भारतीय जन-जीवन और हिन्दी सिनेमा     डॉ. जयकृष्णन जे.   350
22   एक अन्तर्यात्री: सुरेन्द्र चतुर्वेदी     सफलता सरोज    495
23   आधुनिक हिन्दी नाटक में क्रांतदर्शी कबीर एवं अन्य निबंध     वेदप्रकाश अमिताभ    325
24   रचना के आइने में रचनाकार कृष्णा अग्निहोत्री     डॉ. ऋतु भनोट   295
25   रचना-प्रक्रिया और मनस्तत्व     डॉ. रेखा प्रियश्री    795
26   स्वाधीन होने का अर्थ और कविता     नरेन्द्र मोहन    495
27   अथ किन्नर-कथा संवाद (न दैन्यं न पलायनम्)     सं. महेन्द्र भीष्म    495
28   हिंदी कहानीःनई और पुरानी      महेश दर्पण   450
29   स्वाधीनता का महास्वप्न      बलराम   395
30   उनकी दृष्टि अपनी सृष्टि      राकेश शुक्ल   495
31   दूरदर्शन: हिन्दी धारावाहिक एवं नारी     डॉ. विजयेश्वर मोहन   950
32   जाग मछन्दर जाग(समकालीन आलेख)     सुभाष राय   325
33   छायावाद का व्यावहारिक सौन्दर्यशास्त्र     डॉ. सूर्यप्रसाद दीक्षित   695
34   हिन्दी उपन्यास: स्त्री की तरफ खुलती खिड़की     तरसेम गुजराल   525
35   किन्नर विमर्श: कल, आज और कल     सं. सफलता सरोज   495
36   संदर्भ और सवाल      गोविन्द मिश्र   425
37   लम्बी कविताएँ: स्वरूप, संवेदना और शिल्प     डॉ. समता मिश्र   895
38   इक्कीसवीं शती के हिन्दी उपन्यास      सं. डॉ. प्रमोद कोवप्रत   395
39   आमने-सामने (लेख संग्रह)     डॉ. रणजीत   495
40   मोबाइल में हिन्दी भाषा के अनुप्रयोग     डॉ. नितीन कुंभार   375
41   साहित्याकाश के दो चाँद: बंकिमचन्द्र और प्रेमचंद     डॉ. कोयल विश्वास   595

42   हिन्दी का स्वातंत्र्योत्तर विचारात्मक गद्य     सं. डॉ. कोयल विश्वास   995
43   समकालीन हिन्दी उपन्यास : यथार्थबोध और उसकी भाषा आलोचना     डॉ. रत्ना शर्मा   395
44   समता समाज के प्रतिष्ठापक सुशीला टाकभौरे के उपन्यास      डॉ. राजमुनि   295
45   स्वातंत्र्योत्तर हिन्दी कथा साहित्य की प्रवृत्तियाँ     कृष्णा श्रीवास्तव   400
46   विवेकीराय कृत चली फगुनाहट बौरे आम: लोकतत्व     डॉ. अनुपमा तिवारी   275
47   धूमिल का काव्य समग्र: प्रासंगिकता के विविध संदर्भ     डॉ. डॉली   400
48   नाट्यकर्मी सर्वेश्वरदयाल सक्सेना     डॉ. देवीदास इंगले   200
49   आधुनिकता का पराग संक्रमण      डॉ. सुप्रिया पी.   325
50   मैं कहूँ जगबीती     गिरिराज किशोर   295
51   संदर्भ और सवाल     गोविन्द मिश्र   425
52   रूपसिंह चंदेल का साहित्यिक मूल्यांकन      सं. माधव सक्सेना   725
53   समीक्षा का लोकतंत्र      विज्ञान भूषण   375
54   21वीं सदी के हिन्दी उपन्यास     डॉ. प्रमोद कोवप्रत   395
55   विमर्श के पंख (समीक्षात्मक लेख)     अम्बिली वी. एस.   225
56   भारतीय सिनेमा में भारतीय संस्कृति     ऊषा कुमार के.पी.   225
57   सत्तरोत्तर हिन्दी उपन्यासों में व्यक्तित्व निर्माण के विविध आयाम     डॉ. एन.सी. सुधादेवी   675
58   समकालीन हिन्दी कविता: विविध आयाम     डॉ. सुचित, डॉ. ज्योति   250
59   गांधीबंदा व गिरमिटिया गांधी का तुलनात्मक अध्ययन     डॉ. सुलता राजाराम   475
60   मृदुला गर्ग: व्यक्तित्व और कृतित्व     डॉ. एस. दीप्ति   695
61   समकालीनों की नजर में नासिरा शर्मा की कहानियाँ     अंजुम ज़मा   350
62   स्त्री कविता में मानवीय संवेदना     डॉ. शिवकुमार   450
63   संत कबीरदास और शिशुनाल शरीफ के साहित्य में जीवन मूल्य     डॉ. सुलता राजाराम   275
64   मेहरुन्निसा परवेज़ की कहानियाँ : सामाजिक यथार्थ और कथाभाषा     अनुपमा तिवारी   650
65   ममता कालिया की कहानियों में नारी     डॉ. नीरजा वी. एस.   595
66   प्रमुख महिला कथाकारों की आत्म-कथाओं का शैलीवैज्ञानिक विश्लेषण     प्रतिमा दवे   550
67   स्त्री: सत्ता, संस्कृति और समाज     आरती रानी प्रजापति   350
68   सांकल: एक विश्लेषणात्मक अध्ययन     पूजा प्रजापति   295
69   समकालीन हिन्दी नाटक तथा रंगमंच     डॉ. वी.जी. माग्रेट   495
70   मालती जोशी के कथा साहित्य का मनोवैज्ञानिक अध्ययन     डॉ. भावना पाल   650
71   वर्तमान परिवेश और राष्ट्रीय चिंतन     डॉ. कृष्णा अग्निहोत्री   250
72   साहित्य और राजनीति की तीसरी धारा     कँवल भारती   250
73   फ़िलहाल     गिरिराज किशोर   550
74   हिन्दी का वैश्विक स्वरूप तथा अन्य लेख     डॉ. महीप सिंह   495
75   सरकंडे की कलम (रामदरश मिश्र-रचना संचयन)     सं. सरस्वती मिश्र   795
76   छायावाद की सही परख पहचान     डॉ. सूर्य प्रसाद दीक्षित   250
77   साहित्य का सामयिक सरोकार      डॉ. प्रमोद कोव्वप्रत   350
78   शोध संस्कृति     डॉ. संजय नवले   250
79   हिन्दी का अस्मितामूलक साहित्य और अस्मिताकार     राजेन्द्र प्रसाद   200
80   जमीन की तलाश में (उपन्यासों की आलोचना)     तरसेम गुजराल   350
81   रंगमंच के नाटककार मोहन राकेश     प्रो. नारायण राजू   400
82   आधुनिक हिन्दी काव्य में युद्ध और शांति     डॉ. प्रमिदा के.   295
83   समकालीन हिन्दी नाटक: युगबोध     डॉ. उमा हेगड़े   450
84   नरेश मेहता के काव्य: एक अलग पहचान     डॉ. जयरमन   595
85   नरेन्द्र मोहन: कविता समग्र (भाग-1, 2)     सं.डॉ. गुरुचरण सिंह   1500
86   लीक से हटकर (समालोचना)     डॉ. प्रेम कुमार   450
87   उपन्यासकार गोविन्द मिश्र     सं. सुवास कुमार   595
88   हिन्दी दलित उपन्यासों का शिल्प-विधान     डॉ. मनु प्रताप   595
89   हिन्दी साहित्य में ओमप्रकाश वाल्मीकि का प्रदान     डॉ. महेन्द्र भाई वणकर   650
90   हिन्दी महिला नाट्य लेखन के सामाजिक सरोकार     मिनी जोर्ज   695
91   मधु कांकरिया के कथा-साहित्य में सामाजिक और सांस्कृतिक चेतना     डॉ. शबाना हबीब   695
92   स्त्री विमर्श और समकालीन साहित्यिक संदर्भ     प्रतिभा मुदलियार   250
93   डॉ. विश्वनाथ त्रिपाठी के साहित्य में चित्रित ग्रामीण जीवन सभ्यता     डॉ. ए. फातिमा   250
94   समसामयिक कहानियों में कामकाजी महिला     डॉ. एम. पवन कुमारी   595
95   उदयप्रकाश की कहानियों में समकालीन समाज एवं समस्याएँ     डॉ. पी.जे. शिवकुमार   250
96   अन्तिम दशक के महिला कहानीकारों के बदलते सामाजिक सन्दर्भ     डॉ. श्रावणी भट्टाचार्य   395
97   उपादेय साहित्यालोचन     सं. देवीदास इंगले   395
98   डॉ. अमरसिंह वधान: चिंतन और संवेदना     सं. डॉ. पंडित बन्ने   600
99   डॉ.मिथिलेशकुमारी मिश्रःआस्था और स्थापनाएँ     डॉ. रेखा प्रियश्री   495
100   आंचलिक उपन्यासों में सामाजिक और राजनीतिक चेतना     डॉ. अनिता बेलगांवकर   300
101   संस्कृति के परिप्रेक्ष्य में समकालीन हिन्दी यात्रवृत्त     डॉ. संगीता पी.   350
102   हिन्दी साहित्य के पत्र-साहित्य का अनुशीलन     वर्षा गायकवाड   695
103   हिन्दी साहित्य की वैचारिक पृष्ठभूमि     डॉ. संजय नवले   295
104   आधुनिक हिन्दी मिथकीय उपन्यासों में मानव सम्बन्ध     डॉ. टी. हैमावती   750
105   समकालीन हिन्दी साहित्य में पर्यावरण विमर्श     डॉ. सुमेश   250
106   स्त्री कथा: अन्तर्कथा (स्त्री विमर्श)     कमल कुमार   395
107   राजीसेठ की कहानी साहित्य का अनुशीलन     डॉ. मंजू देवी   225
108   डॉ. रामविलास शर्मा का व्यक्तित्व कृतित्व तथा उनकी साहित्येत्तर आलोचना     डॉ. मंजुनाथ के.   200
109   गोदान: एक समीक्षा     डॉ. मंजुनाथ के.   195
110   डॉ. रामविलास शर्मा की साहित्यिक आलोचना     डॉ. मंजुनाथ के.   350
111   समकालीन साहित्य: विविध परिदृश्य     डॉ. जयचन्द्रन   495
112   आधुनिक हिन्दी कविता से साक्षात्कार     प्रभाकरन हेब्बर   375
113   भाषा और साहित्य: विविध परिदृश्य     प्रभाकरन हेब्बर   375
114   विनोद कुमार शुक्ल के उपन्यासों में युवा वर्ग     डॉ. सन्मुख मुच्छटे   400
115   समकालीन मलयालम और हिन्दी लेखिकाओं के उपन्यासों में चित्रित नारी मनोविज्ञान     डॉ. कविता डी. के.   400
116   भीष्म साहनी के उपन्यासों में यथार्थवादी परिदृश्य     डॉ. मंजूषा के.   550
117   रामायण: समय की कसौटी पर     अरुणा त्रिवेदी   550
118   जगजीवन राम और उनका नेतृत्व     ई. राजेन्द्र प्रसाद   400
119   कहानीकार स्वयं प्रकाश: रचना दृष्टि और रचना शिल्प     डॉ. सायरा बानो   400
120   हिन्दी साहित्य में आदिवासी विमर्श     डॉ. पं. बन्ने   350
121   नाटककार स्वदेश दीपक     श्वेता कुमारी   450
122   हिन्दी साहित्य: समय से साक्षात्कार     डॉ. प्रमोद कोवप्रत   400
123   हिन्दी आलोचना का वर्तमान     डॉ. के. श्रीलता विष्णु   450
124   हिन्दी कहानी: आदि से आज तक     डॉ. सुकुमार भण्डारे   595
125   हिन्दी के विविध परिदृश्य     डॉ. करुणा उमरे   450
126   महादेवी के साहित्य का गद्य पर्व     डॉ. मुक्तेश्वरनाथ तिवारी   70
127   आधुनिक हिन्दी साहित्य में आत्मकथा और संस्मरण विधा     डॉ. ज्योति व्यास   495
128   समसामयिक साहित्य: चिंतन और चुनौतियाँ      सं. डॉ. वीणा दाढे   695
129   उपन्यास का समकालीन     डॉ. गुरुचरण सिंह   450
130   लम्बी कविता के आर-पार     डॉ. नरेन्द्र मोहन   300
131   जमीन की तलाश में (आलोचना)     डॉ. तरसेम गुजराल   300
132   कथाभाषा और काव्य भाषा का समाजभाषिक संदर्भ     डॉ. एन. लक्ष्मी   600
133   अग्रणी कवि: बलदेव वंशी     डॉ. बलवन्त जेऊरकर   500
134   भारतीय साहित्य में धर्म और दर्शन के आयाम     सं. डॉ. सैय्यद मेहरून   500
135   स्वातंत्र्योत्तर हिन्दी कहानी में सम्बन्ध विघटन और नारी संघर्ष चेतना     डॉ. सैय्यद मेहरून   895
136   डॉ. अमर सिंह वधान का नारी विमर्श     प्रा. शकुन्तला वाघ   300
137   साहित्येतर क्षेत्र में हिन्दी का योगदान     सं. डॉ. विद्याश्री   400
138   जीवन से बतियाता साहित्य (समीक्षा)     डॉ. सरजू प्रसाद मिश्र   350
139   चन्द्रकांत देवताले की कविताओं में युगबोध     डॉ. गजानन भोसले   595
140   कथाकार: विष्णु प्रभाकर     डॉ. महावीर हाके   650
141   कृष्णा सोबती के उपन्यासों में प्रतिबिंबित नारी जीवन     डॉ. सुलोचना अंर्तरेड्डी   495
142   समकालीन हिन्दी नाटकःसमय और संवेदना     डॉ. नवीन नन्दवाना   350
143   समकालीन कविता: विविध सन्दर्भ      डॉ. नवीन नन्दवाना   450
144   डॉ. देवराज: सर्जक और आलोचक     डॉ. धनलक्ष्मी वतनानी   550
145   डॉ. चन्द्रशेखरन नायर के साहित्य में सांस्कृतिक एवं राष्ट्रीय चेतना     डॉ. पंडित बन्ने   300
146   स्वातंत्र्योत्तर हिन्दी समीक्षा सिद्धान्त     ब्रह्मदेव मिश्र   650
147   मुक्तिबोध और धूमिल का काव्य     डॉ. स्वानन्द शिवप्रसाद    450
148   अमृतलाल नागर के उपन्यासों में यथार्थबोध     डॉ. प्रतिभा प्रसाद   500
149   हिन्दी और बांग्ला: समशील उपन्यासकारों का     डॉ. बुला कर   800
150   संतोष शैलजा के उपन्यासों में नारी     समिता साहा   150
151   राधामाधव: राधाभाव और कृष्णत्व का नया विमर्श     डॉ. कर्ण सिंह चौहान   250
152   रुद्रावतार और राम की शक्ति पूजा     सं. लक्ष्मीकांत पाण्डेय   250
153   उद्भ्रांत का संस्कृति चिंतन     नंद किशोर नौटियाल   180
154   साहित्य संवाद: केन्द्र में उद्भ्रांत     अवध बिहारी श्रीवास्तव   120
155   कमलेश्वर का कथा साहित्य: समकालीन समस्याओं का जीवन्त आलेख     डॉ. मिनि जार्ज   450
156   संवादात्मकता का रचनाकर्म     डॉ. गोपाल कृष्णन्   450
157   अनुभूत क्षण: दृष्टि और सृष्टि     डॉ. महेन्द्र भटनागर   250
158   21वीं सदी की हिन्दी स्त्री कविता : आशय और अभिव्यक्ति      डॉ. संतोष टेळकीकर, डॉ. ज्योति मुंगल   450
159   सृजन स्मृति के हस्ताक्षर     डॉ. बलदेव वंशी   350
160   राग संवेदन: दृष्टि और सृष्टि     डॉ. महेन्द्र भटनागर   250
161   तुलनात्मक साहित्य: विश्व संस्कृति और भाषाएँ     सं. डॉ. के. सीतालक्ष्मी   500
162   वक्रतुण्ड: मिथक की समकालीनता (आलोचना)     सं.डॉ. करुणाशंकर उपाध्याय    65
163   उद्भ्रांत का काव्य: मिथक के अनछुये पहलू      डॉ. शिवपूजन लाल   500
164   रेणु का कथेत्तर साहित्य: समाज और संस्कृति      डॉ. ऋषि कुमार   400
165   नागार्जुन का कथा साहित्य     डॉ. मीरा चन्द्रा   300
166   आधुनिकता बोध और ऊषा प्रियंवदा     डॉ. संदीप रणभिरकर   500
167   सप्तक-त्रय में आधुनिकता     डॉ. पी. के. जयलक्ष्मी   600
168   भूमण्डलीकरण और हिन्दी कविता     डॉ. बाबू जोसप़फ़   500
169   समकालीन हिन्दी साहित्य: संवेदना और विमर्श     डॉ. वेदप्रकाश अमिताभ   350
170   दक्षिण भारतीय हिन्दी साहित्य का इतिहास     प्रो. पी. आदेश्वर राय   700
171   जनकवि नागार्जुन एवं प्रयोगवादी कवि अज्ञेय     डॉ. वीणा दाढे   350
172   गद्यपथ के दीप (गद्य रचनाओं का प्रतिनिधि संकलन)     डॉ. गौतम सचदेव   300
173   आधुनिक हिन्दी साहित्य: मनन और मूल्यांकन      डॉ. सूर्यनारायण वर्मा   400
174   भारतीय साहित्य: कुछ परिदृश्य     डॉ. तनुजा मजूमदार   400
175   विनोद कुमार शुक्ला का रचना संसार     डॉ. एस. एन. मुच्छटे   300
176   हिन्दी नाटक विमर्श     डॉ. देवीदास इंगले   400
177   दिनकर का कुरुक्षेत्र और मानवतावाद     डॉ. मोहसिन ख़ान   250
178   हिन्दी उपन्यास: वस्तु एवं शिल्प     डॉ. श्रद्धा उपाध्याय   750
179   महिला उपन्यासकारों की नारी: प्रगति एवं पीड़ा के आयाम     डॉ. हरिशंकर दुबे   350
180   हिन्दी मराठी नुक्कड़ नाटक     डॉ. वर्षा गायकवाड   400
181   हिन्दी के प्राचीन प्रतिनिधि कवि     डॉ. पण्डित बन्ने   550
182   आधुनिक हिन्दी साहित्य की प्रवृत्तियाँ     डॉ. भरत पटेल   300
183   सुमित्रनन्दन पंत के काव्य विकास का अध्ययन     डॉ. रीता मेहरोत्र   400
184   हिन्दी के आधुनिक प्रतिनिधि कवि     डॉ. राठौड़ बालू   450
185   यशपाल के उपन्यासों का अनुशीलन     डॉ. शकुन्तला वाघ   160
186   समकालीन महिला उपन्यासकारों के उपन्यासों में नारी विमर्श     डॉ. मुक्ता त्यागी   400
187   शशिप्रभा शास्त्री का कथा साहित्य     डॉ. कविता चांदगुडे   450
188   समकालीन हिन्दी-कन्नड़ कविता में जनवादी चेतना     डॉ. विद्याश्री   250
189   निर्मल वर्मा का कथा साहित्य (द्वितीय सं.)     डॉ. रघुनाथ शिरगांवकर   400
190   मैत्रेयी पुष्पा और शान्ता गोखले की नारी दृष्टि     डॉ. सुलोचना अंतर्रेड्डी   300
191   हिन्दी के आधुनिक प्रतिनिधि कवि     डॉ. पण्डित बन्ने   400
192   हिन्दी कविता: भाषा और शिल्प: विविध प्रतिमाल     डॉ. करुणा उमरे   400
193   बिहारी सतसई और रत्नाकर वर्णीकृत भरतेश वैभव: तुलनात्मक अध्ययन     डॉ. एस. एम. मिट्ठलकोड   200
194   हिन्दी आंचलिकता का अभ्युदय और रेणु के उपन्यास     डॉ. हरिशंकर दुबे   300
195   सप्तक-त्रय में समकालीन जीवन के संवेदनात्मक पक्ष     डॉ. पी. के. जयलक्ष्मी   250
196   सियारामशरण गुप्त के उपन्यास और नारीपात्र     डॉ. रेणु बाली   200
197   नरेश मेहता के काव्यों का सामाजिक चिंतन     डॉ. टी. शुभानन्द   300
198   हरिशंकर परसाई के व्यंग्य-साहित्य में मिथकीय संरचना का अनुशीलन     डॉ. शरद सुनेरी   300
199   आलोचना-विविधा (लेख संग्रह)     डॉ.सी.जे. प्रसन्न कुमारी   200
200   मृदुला गर्ग के साहित्य में चित्रित समाज     डॉ. किरण बाला जाजू   40
201   कुण्ठा एवं साहित्य-सर्जना     डॉ. मनमोहन शुक्ल   600
202   हिन्दी का वैश्विक परिदृश्य (द्वितीय सं.)     डॉ. पण्डित बन्ने   275
203   आधुनिक नारी एवं महिला सशक्तिकरण     डॉ. अंजू शुक्ला   400
204   समकालीन हिन्दी कविता के महत्वपूर्ण हस्ताक्षर     डॉ. सरजू प्रसाद मिश्र   450
205   लम्बी कविता: काव्य सौन्दर्य     डॉ. सोमाभाई पटेल   200
206   लोक जीवन के रंग     डॉ. ओमप्रकाश राजपाली   300
207   हिन्दी लेखिकाओं की आत्मकथाएँ     डॉ. सरजू प्रसाद मिश्र   300
208   रीतिसिद्धान्त और शैली विज्ञान     डॉ. सूर्यकान्त त्रिपाठी   300
209   रांगेय राघव के उपन्यासों में आंचलिकता     प्रो. जगन्नाथ पाटील   200
210   जैनेन्द्र के उपन्यासों का मनोविश्लेषणात्मक अध्ययन     डॉ.सी.एस. अजित कुमार   400
211   हिन्दी दलित आत्मकथा     डॉ. संजय नवले   200
212   जायसी कृत कन्हावत में सांस्कृतिक एकता एवं मानववाद     डॉ. चमन लाल शर्मा   300
213   परसाई के साहित्य में समकालीन यथार्थ      डॉ. संध्या कुमारी सिंह   550
214   उत्तर छायावादी काव्यधारा के परिप्रेक्ष्य में डॉ. शिवमंगल सिंह सुमन     डॉ. शोभना तिवारी   650
215   मैत्रेयी पुष्पा के साहित्य का समाजशास्त्रीय अध्ययन     डॉ. व्यंकट पाटील   550
216   महादेवी वर्मा के रेखाचित्र एक अध्ययन     प्रा. राठौड बी. बी.   300
217   शब्दों के नेपथ्य     डॉ. सरजू प्रसाद मिश्र   225
218   हिन्दी साहित्य में नारी संवेदना     डॉ. एन.जी. दौड़गौडर   275
219   गिरिराज किशोर के उपन्यासों में संवेदना और शिल्प     डॉ. सोमाभाई पटेल   500
220   नाटककार ज्ञानदेव अग्निहोत्री     डॉ. रमेश कुमार गवली   200
221   समकालीन हिन्दी कविता और कुमार अंबुज     डॉ. बाबू जोसफ   250
222   रचनाकार डॉ. रामकुमार वर्मा: एक अवलोकन     डॉ. देवीदास इंगले   400
223   आधुनिक हिन्दी साहित्य में जनवादी चेतना     डॉ. विद्याश्री   450
224   हिन्दी की चुनी हुई लम्बी कविताओं पर बातचीत     डॉ. राजेन्द्र प्रसाद सिंह   150
225   स्वातंत्र्योत्तर हिन्दी उपन्यास साहित्य की सामाजिक चिन्ता     डॉ. कुसुमराय   450
226   शतायुषी हिन्दी साहित्यकार और उनकी साहित्यिक साधना     डॉ. विद्याश्री   550
227   राजभाषा हिन्दी के बहुमुखी आयाम     डॉ. सी.जे. प्रसन्नकुमारी श्रीमती आर.आई. शांति   300
228   अवधी भाषा साहित्य का सांस्कृतिक परिवेश     डॉ. गुणमाला खिमेसरा   300
229   सौंदर्यबोध शास्त्र     डॉ. जगदीशसिंह मन्हास   700
230   हिन्दी नाटक साहित्य और लक्ष्मी नारायण लाल     डॉ. भीमप्प एल. गुंडूर   400
231   कथाकार शिवानी व्यक्तित्व और कृतित्व     डॉ. कृष्णा श्रीवास्तव   300
232   हिन्दी के जीवनीपरक उपन्यास एक अध्ययन     डॉ. संगीता सहजवाणी   250
233   निराला के गद्य साहित्य में प्रगतिशील चेतना     डॉ. नरेन्द्र शुक्ला   250
234   भारतीय बाल साहित्य की भूमिका     डॉ. त्रिभुवन नाथ शुक्ल, डॉ. श्रीकृष्ण चन्द्र तिवारी राष्ट्रबन्धु   250
235   समीक्षक आचार्य नन्द दुलारे बाजपेयी     सं. डॉ. त्रिभुवन नाथ शुक्ल   300
236   हिन्दी-मराठी नाटक और एब्सर्ड     डॉ. सरजू प्रसाद मिश्र   350
237   भगवत्गीता का संवाद सौंदर्य     डॉ. ज्ञानराज गायकवाड, डॉ. राजु बागलकोट   300
238   कवियों के कवि अज्ञेय     डॉ. शंकर वसंत मुद्गल   300
239   राष्ट्रीयकृत बैंकों में हिन्दी     डॉ. शंकर बुंदेले   225
240   अन्वेषण (आलेख संग्रह)     डॉ. सुमंगला मुम्मिगट्टी   200
241   साठोत्तरी कन्नड़ और हिन्दी कवयित्रियाँ     डॉ. सुमंगला मुम्मिगट्टी   150
242   भगवती प्रसाद वाजपेयी के गद्य साहित्य का अनुशीलन     डॉ. सुमंगला मुम्मिगट्टी   110
243   कमलेश्वर की कहानियों का अनुशीलन     डॉ. मंजुला देसाई   300
244   साहित्यिक रांगेय राघव     डॉ. गीता पुजारी   240
245   समीक्षायें विविध आयाम     डॉ. रवीन्द्रनाथ मिश्र   75
246   समीक्षा का व्यवहारिक संदर्भ     डॉ. सत्यदेव त्रिपाठी   125
247   लोकसंचार माध्यम प्रस्तुति के रचनात्मक आयाम     डॉ. सत्यदेव त्रिपाठी   150
248   समकालीन कविता के बदलते सरोकार     डॉ. सुधा रणजीत   110
249   पर्यावरण और विकास     डॉ. रणजीत   140
250   भारतीय प्रेमाख्यानायक काव्य परम्परा और दाऊदकृत चंदायान      डॉ. बैकुण्ठ राय   160
251   श्रीमती चन्द्र किरण सोनरेक्सा एवं शरतचन्द्र के नारी पात्र     डॉ. कुन्तल कुमारी   125
252   मार्कण्डेय का रचना संसार     डॉ. सुरेन्द्र प्रसाद   250
253   शंकर शेष के नाटकों में रंगमंचीय अनुशीलन     डॉ. रमाकान्त दीक्षित   250
254   प्रसाद साहित्य में प्रेमभाव     डॉ. आशा मणियार   180